वॉल्वो की XC90 प्लग-इन हाईब्रिड अब होगी भारत में असेम्बल

0

Volvo Xc90 Hybrid Will Be Assembled In India

हाल ही में वॉल्वो इंडिया ने एक जरूरी घोषणा की है कि वॉल्वो 2019 के अंत तक अपनी XC90 PHEV वेरिएंट को भारत में असेंबल करना शुरू करेगी. इसी साल वॉल्वो ने भारतीय मार्केट में XC90 के प्लग-इन हाईब्रिड वेरिएंट को लॉन्च किया था और फिलहाल भारत में कार की एक्सशोरूम कीमत 1.25 करोड़ रुपए है. इससे पहले कंपनी ने 2017 के अंत में XC90 की असेंबलिंग देशी स्तर पर शुरू की थी और बाद में S90 को भी बेंगलुरु प्लांट में असेंबल करना शुरू किया. सितम्बर महीने से वॉल्वो ने अपनी एक और गाड़ी XC60 को भी देश में असेंबल करना शुरू किया गया है जो कि अभी कंपनी की सबसे ज्यादा बिकने वाली गाड़ी बन गई है.

वॉल्वो की नयी XC90 एक हाइब्रिड गाड़ी है जो सात सीटों वाली होगी. वॉल्वो ने इसे आधुनिक फीचर्स से लैस किया है जैसे 4-ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल, पेनोरमिक सनरूफ, बोवर्स एंड विल्किंस सिस्टम, अडाप्टिव सस्पेंशन, नप्पा लैदर सीट्स और अगले पैसेंजर के लिए वेंटिलेशन फंक्शन जैसे फीचर्स गाड़ी में दिए गए हैं. कार के बाकी फीचर्स XC90 T8 वाले ही हैं जिन्हें वॉल्वो इंडिया ने XC90 T8 हाईब्रिड में भी मुहैया कराया है. ये नयी एसयूवी छः नए ड्राइविंग मोड्स के साथ आते हैं जिनमें सेव, प्योर, हाईब्रिड, पावर, ऑल-व्हील ड्राइव और ऑफ-रोड शामिल हैं.

Volvo Xc90 Hybrid Will Be Assembled In India

Volvo Xc90 Hybrid Will Be Assembled In India

वॉल्वो की इस नयी XC90 T8 हाईब्रिड में 2.0-लीटर का डायरेक्ट इंजैक्शन, चार-सिलेंडर पेट्रोल इंजन दिया गया है जो 320 bhp पावर और 240 Nm टॉर्क जनरेट करने की क्षमता रखता है. इलैक्ट्रिक मोटर के साथ XC90 T8 इंस्क्रिप्शन का इंजन 398 bhp पावर और 640 Nm पीक टॉर्क जनरेट करता है. कंपनी ने इस इंजन को 8-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन दिया है जिससे कार के पिछले पहियों में इलैक्ट्रिक मोटर पावर पहुंचाती है, वहीं कार का पेट्रोल इंजन अगले पहियों को रफ्तार देता है. बता दें कि इलैक्ट्रिक मोटर की मदद से कार को सिंगल चार्ज में 32 km तक चलाया जा सकता है और सिर्फ 6 सेकंड में ही यह 0-100 किमी/घंटा की रफ्तार पकड़ लेती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here